इन पांच योजनाओं में न‍िवेश से इनकम टैक्‍स में बचत के साथ ज्‍यादा रिटर्न म‍िलने का भी चांस,

नए साल के दौरान कंपनियां कर्मचारियों से सेविंग स्‍कीम मांगना शुरू कर चुका है। अगर आप अपने निवेश का प्रूफ नहीं देते हैं तो सैलरी से टैक्‍स कट सकता है। लेकिन प्रूफ देने से पहले यह जरुरी है कि आप किसी योजना में निवेश कर रहे हैं या नहीं। अगर निवेश नहीं कर रहे हैं तो यहां आपके लिए पांच योजनाएं है, जिसमें आप अधिक इनकम टैक्‍स की बचत कर सकते हैं।

इन स्‍कीमों में 80सी के तहत इनकम टैक्‍स सेविंग के लिए कई विकल्प उपलब्ध हैं। ये विकल्प न केवल टैक्स सेविंग हैं, बल्कि लंबे समय में शानदार रिटर्न का भी वादा करते हैं। धारा 80सी के तहत आप अधिकतम टैक्स कटौती का दावा 1.5 लाख रुपये तक कर सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY)
यह योजना आप अपने बिटिया के लिए खोल सकते हैं। लेकिन इसमें खाता तभी तक खोला जा सकता है जब तक कि वह 10 वर्ष की आयु तक नहीं रहती है। इस योजना के तहत 7.6 फीसदी का सालाना रिटर्न दिया जाता है। खाता न्यूनतम 250 रुपये से खोला जा सकता है और उसके बाद 100 रुपये के गुणक में धनराशि जमा की जा सकती है। इसके तहत खाते में जमा राशि और परिपक्वता राशि आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत छूट देती है।

पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF)
PPF एक ऐसी स्‍कीम है, जो लंबे समय तक निवेश का विकल्‍प देती है। इसमें किसी धनराशि को 15 साल के लिए‍ निवेश किया जा सकता है। वहीं इसे 5 साल और बढ़ाया जा सकता है। इसके अलावा इस ब्लॉक में 20, 25 और 30 साल तक की अवधि के लिए विस्तार कर सकते हैं। इसके तहत एक निवेशक को जमा, ब्याज और निकासी के समय कर छूट मिलती है। इसके तहत 7.1 फीसद का रिटर्न दिया जाता है।

राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC)
जो लोग कम जोखिम लेना चाहते हैं, उनके लिए राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र में निवेश का विकल्‍प बेहतर हो सकता है। एनएससी आपको सालाना चक्रवृद्धि ब्याज दर 6.8 प्रतिशत देता है। इस हिसाब से अगर कोई निवेश करता है तो उसे एक अच्‍छी धनराशि परिपक्‍वता पर मिल सकता है। इसके तहत आईटी के एक्‍ट 80सी के तहत कर लाभ भी दिया जाता है।

यह भी पढ़ें: LIC ने इस मल्‍टीबैगर स्‍टॉक में बढ़ाई हिस्‍सेदारी, पिछले एक साल में शेयर में 152.59% की आई तेजी

इंफ्रास्ट्रक्चर बॉन्ड
करदाता धारा 80CCF के तहत सरकार द्वारा अनुमोदित बुनियादी ढांचा बांड में निवेश करके कर-बचत लाभ प्राप्त कर सकते हैं। एक आकलन वर्ष के लिए धारा 80CCF के तहत कटौती के लिए अधिकतम राशि 20,000 रुपये है।

\\\"स्वर्णिम
+91 120 4319808|9470846577

स्वर्णिम भारत न्यूज़ हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.

4 0 16

मनोज शर्मा

मनोज शर्मा (जन्म 1968) स्वर्णिम भारत के संस्थापक-प्रकाशक , प्रधान संपादक और मेन्टम सॉफ्टवेयर प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Laptops | Up to 40% off

मोबाइल ऐप डाउनलोड करे

मोबाइल ऐप डाउनलोड करे

स्वर्णिम भारत न्यूज़ के एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करे

और पढ़ें देश, दुनिया, महानगर, बॉलीवुड, खेल

और अर्थ जगत की ताजा खबरें