PM ने तो कहा था नोटबंदी के बाद कालाधन खत्म हो जाएगा, फिर बंडल कहां से आए? BJP प्रवक्ता से भिड़ गए एंकर सुशांत सिन्हा,

यूपी के कानपुर में इत्र कारोबारी पीयूष जैन के ठिकानों पर इनकम टैक्स द्वारा छापे मारे गए थे। इस दौरान इनकम टैक्स विभाग को 257 करोड़ रुपये कैश मिले। टैक्स चोरी के आरोप में पीयूष जैन को गिरफ्तार भी किया गया था। इस मामले को लेकर टाइम्स नाउ नवभारत के डिबेट शो ‘राष्ट्रवाद’ में भी चर्चा की गई, जहां भाजपा प्रवक्ता से लेकर सपा प्रवक्ता व अन्य लोग मौजूद थे। लेकिन डिबेट के बीच ही सुशांत सिन्हा और भाजपा प्रवक्ता अपराजिता सारंगी में जमकर बहस हुई। इसके साथ ही सुशांत सिन्हा ने पीएम मोदी व नोटबंदी का भी जिक्र किया।

दरअसल, शो में भाजपा प्रवक्ता ने कहा था कि हमारे पास सबूत है कि पीयूष जैन और बाकी लोगों का लिंक समाजवादी पार्टी से है। उनकी बात पर न्यूज एंकर ने पूछा, “पब्लिक के सामने आपने तो कोई सबूत बताया नहीं और आपके नेताओं ने रैली में उनसे लिंक भी जोड़ दिया। अगर अखिलेश यादव से वाकई में इनका कनेक्शन है तो जेल में डालिये ना इन्हें।”

सुशांत सिन्हा ने अपने बयान में आगे कहा, “गृह मंत्री और मुख्यमंत्री दोनों ही कह रहे हैं तो कोई सबूत तो दीजिए।” वहीं भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि हमारे नेता आधारहीन बातें नहीं करते हैं। सबूत हमारे पास है। इस बात पर बिफरते हुए न्यूज एंकर ने कहा, “कोई सबूत पब्लिक को दिया नहीं, एजेंसी ने कुछ बताया नहीं और आपके नेताओं ने लिंक जोड़ दिया। अगर जांच चल रही है तो इसका इस्तेमाल चुनाव में क्यों कर रहे हैं?”

उनकी बात पर भाजपा प्रवक्ता ने कहा, “प्रथम दृष्ट्या जो जांच हुई है, उसमें सामने आया है कि पीयूष जैन का संबंध सपा से था। आग नहीं होती है तो धुआं कहीं नजर नहीं आता मैं प्रशासनिक अधिकारी रही हूं और ये बातें यूं ही जन के सामने नहीं लाई जातीं।” उनकी बात पर सुशांत सिन्हा ने कहा, “मुहावरा नहीं चलेगा, अगर सीएम दावा कर रहे हैं तो बताएं। अगर पब्लिक के बीच बात नहीं कही जाती तो ये बात योगी आदित्यनाथ को भी समझाइये। वो तो लाखों की भीड़ में कह रहे हैं कि अखिलेश से संबंध है। अगर नहीं हुआ तो वह रैली में जाकर दोबारा कहेंगे।”

सुशांत सिन्हा ने कहा कि आपके शीर्ष नेता ने कह दिया तो ब्रह्म वाक्य हो गया, सबूत बताइये। उनकी बात पर भाजपा प्रवक्ता ने कहा, “गृह मंत्री और प्रधानमंत्री कह रहे हैं, जब वे कह रहे हैं तो आप कौन और हम कौन?” उनकी बात पर सवाल करते हुए न्यूज एंकर ने पूछा, “प्रधानमंत्री ने तो कहा था कि नोटबंदी के बाद कालाधन खत्म हो जाएगा, तो इतना पैसा कहां से आ गया?”

\\\"स्वर्णिम
+91 120 4319808|9470846577

स्वर्णिम भारत न्यूज़ हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.

4 0 15

मनोज शर्मा

मनोज शर्मा (जन्म 1968) स्वर्णिम भारत के संस्थापक-प्रकाशक , प्रधान संपादक और मेन्टम सॉफ्टवेयर प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Laptops | Up to 40% off

मोबाइल ऐप डाउनलोड करे

मोबाइल ऐप डाउनलोड करे

स्वर्णिम भारत न्यूज़ के एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करे

और पढ़ें देश, दुनिया, महानगर, बॉलीवुड, खेल

और अर्थ जगत की ताजा खबरें