बेहद ताकतवर माना जाता है Mi-17V-5 हेलीकॉप्टर, जिसमें सवार थे सीडीएस बिपिन रावत,

MI-17 V5 हेलीकॉप्टर भारतीय रक्षा बलों द्वारा उपयोग किए जाने वाले सबसे शक्तिशाली हेलिकॉप्टरों में से एक है। इसका निर्माण एक रूसी कंपनी ने किया है।

नई दिल्ली

तमिलनाडु में बुधवार को जो वायुसेना का Mi-17V-5 हेलीकॉप्टर क्रैश हुआ है, उसे दुनिया के बेहतरीन मिलिट्री हेलीकॉप्टर्स में से एक माना जाता है। रूस निर्मित इसी हेलीकॉप्टर में सीडीएस बिपिन रावत अपने दल-बल के साथ सवार थे।

स्वर्णिम भारत न्यूज़ पीएम भी करते हैं इस्तेमाल-

स्वर्णिम भारत न्यूज़ यह हेलीकॉप्टर भारतीय रक्षा बलों द्वारा उपयोग किए जाने वाले सबसे शक्तिशाली हेलिकॉप्टरों में से एक है। यह किसी भी मौसम और इलाके में उड़ान भरने के लिए सक्षम है। लेटेस्ट टेक्नोलॉजी से युक्त इस हेलीकॉप्टर का प्रयोग पीएम से लेकर राष्ट्रपति तक की यात्राओं के लिए किया जाता है। रक्षा विशेषज्ञों की नजर में यह हेलीकॉप्टर काफी सुरक्षित माना जाता है। ऐसे में किस वजह से हेलीकॉप्टर क्रैश हुआ ये जांच के बाद ही पता चल पाएगा।

रूस में निर्माण:

रूस निर्मित यह हेलीकॉप्टर दुनिया भर में मौजूद सैन्य ट्रांसपोर्ट हेलीकॉप्टर्स के नवीनतम संस्करणों में से एक है। यह रूसी मूल के Mi-8/17 श्रृंखला का हिस्सा है। भारत सरकार ने 2008 में 1.3 बिलियन अमेरिकी डॉलर की कीमत में 80, MI-17 V5 हेलीकॉप्टरों के लिए रूसी कंपनी से करार किया था। इनमें से पहला हेलीकॉप्टर भारत को 2013 में दिया गया था। जबकि अंतिम बैच 2018 में आया था।

कई संस्करण उपलब्ध-

इस हेलीकॉप्टर के कई प्रकार हैं, जिसमें सैनिकों को ले जाने के लिए 36-सीट वाला, कार्गो परिवहन के लिए और एक आपातकालीन फ्लोटेशन सिस्टम वाला संस्करण शामिल है। यह हेलीकॉप्टर एक पायलट, सह-पायलट और फ्लाइट इंजीनियर सहित तीन सदस्यीय चालक दल द्वारा संचालित होता है।

ये है खूबियां-

यह हेलीकॉप्टर प्रति घंटे 250 किमी की अधिकतम गति और 230 किमी प्रति घंटे की क्रूज गति से उड़ान भर सकता है। जबकि इसके मुख्य ईंधन टैंक की सीमा 675 किमी है, दो सहायक ईंधन टैंक के साथ यह 1,180 किमी तक उड़ान भर सकता है। यह अधिकतम 4,000 किलोग्राम तक का भार ले जा सकता है।

यहां होता है इस्तेमाल-

इसे जवानों को लाने-ले जाने, हथियारों को ट्रांसपोर्ट करने में, फायर सपोर्ट, एस्कॉर्ट, पेट्रोलिंग और सर्च-एंड-रेस्क्यू मिशनों के लिए उपयोग किया जाता है। हेलीकॉप्टर का अधिकतम टेकऑफ वजन 13,000 किलोग्राम है। यह 36 सशस्त्र सैनिकों को एक साथ ले जाने में सक्षम है। Mi-17V-5 का ग्लास कॉकपिट अत्याधुनिक एवियोनिक्स से लैस है, जिसमें चार मल्टीफ़ंक्शन डिस्प्ले, नाइट-विजन उपकरण, एक ऑन-बोर्ड वेदर रडार और एक ऑटोपायलट सिस्टम शामिल है।

स्वर्णिम भारत न्यूज़
+91 120 4319808|9470846577

4 0 92

मनोज शर्मा

मनोज शर्मा (जन्म 1968) स्वर्णिम भारत के संस्थापक-प्रकाशक , प्रधान संपादक और मेन्टम सॉफ्टवेयर प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Laptops | Up to 40% off

मोबाइल ऐप डाउनलोड करे

मोबाइल ऐप डाउनलोड करे

स्वर्णिम भारत न्यूज़ के एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करे

और पढ़ें देश, दुनिया, महानगर, बॉलीवुड, खेल

और अर्थ जगत की ताजा खबरें