IND vs NZ- बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी सीरीज से पहले टीम इंडिया कैंप करेगी, राहुल द्रविड़ ने IPL में खेलने को लेकर भी बताई शर्त

भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी श्रृंखला से पहले एक तैयारी शिविर में हिस्सा लेगी, लेकिन मेहमान टीम यानी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मुकाबले से पहले किसी भी खिलाड़ी को रणजी ट्

4 1 10
Read Time5 Minute, 17 Second

भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी श्रृंखला से पहले एक तैयारी शिविर में हिस्सा लेगी, लेकिन मेहमान टीम यानी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मुकाबले से पहले किसी भी खिलाड़ी को रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) खेलने के लिए रिलीज नहीं किया जाएगा। पिछले कुछ वर्षों से पैक्ड क्रिकेट कैलेंडर के कारण टीम को किसी सीरीज से पहले शिविर में हिस्सा लिए काफी समय हो गया है।

मुख्य कोच (Indian Cricket Team Head Coach) राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid)) ने इंदौर के होल्कर स्टेडियम में न्यूजीलैंड के खिलाफ तीसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच की पूर्व संध्या पर बताया कि टेस्ट खिलाड़ी नागपुर में नौ फरवरी से होने वाले पहले टेस्ट से पूर्व ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रेड बॉल मैच में अभ्यास नहीं करेंगे। साथ ही इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League/IPL) 2023 में खेलने को लेकर शर्त भी बताई।

राहुल द्रविड़ से पूछा गया था कि क्या रणजी ट्रॉफी के लिए कुछ खिलाड़ियों को रिलीज करने के बारे में सोचा गया है। इस पर द्रविड़ ने कहा कि टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय टीम की तैयारी भी उसी समय हो रही है। रणजी क्वार्टर फाइनल 31 जनवरी से होने हैं।

राहुल द्रविड़ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, ‘हम चयनकर्ताओं को पहले ही बता चुके हैं कि रणजी ट्रॉफी क्वार्टर फाइनल में खेलने वाले किसी भी खिलाड़ी को नहीं छुएंगे। टीम प्रबंधन ने रणजी ट्रॉफी के लिए टेस्ट टीम में शामिल किसी भी खिलाड़ी को रिलीज नहीं करने का भी फैसला किया है। हालांकि, सीरीज शुरू होने के बाद किसी भी खिलाड़ी के टेस्ट में नहीं खेलने पर टीम इस मुद्दे पर विचार करेगी। अगर कोई ऐसा अवसर आता है, जहां कोई हमारी टीम में नहीं खेल रहा है और सेमीफाइनल या फाइनल के लिए उसकी जरूरत है, तो हम निश्चित रूप से इस पर विचार करेंगे।’

कोहली, रोहित जैसे सीनियर खिलाड़ियों का होगा वर्कलोड मैनेजमेंट: राहुल द्रविड़

आईपीएल 2023 में खेलने को लेकर राहुल द्रविड़ ने कहा, एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय विश्व कप के लिए योजनाओं में शामिल भारतीय क्रिकेटर चोटिल नहीं होने की स्थिति में ही आईपीएल (IPL) में खेलेंगे। विराट कोहली और रोहित शर्मा जैसे सीनियर खिलाड़ियों का वर्कलोड मैनेजमेंट (कार्यभार प्रबंधन) होगा, क्योंकि सफेद गेंद के एक प्रारूप को दूसरे पर तरजीह मिलेगी।’

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की नई नीति के अनुसार, इस साल के आईपीएल के दौरान राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) और फ्रेंचाइजी अक्टूबर-नवंबर में घरेलू सरजमीं पर होने वाले 50 ओवर के विश्व कप को देखते हुए मुख्य खिलाड़ियों के कार्यभार पर नजर रखेंगे।

राहुल द्रविड़ ने कहा, ‘कार्यभार प्रबंधन आज खेल का हिस्सा बन गया है। हम इन चीजों की समीक्षा करते रहते हैं। हमने कार्यभार प्रबंधन के तहत टी20 श्रृंखला के दौरान कुछ खिलाड़ियों (रोहित, विराट, लोकेश राहुल) को आपके अनुसार ब्रेक दिया था।’

चोट का प्रबंधन और कार्यभार प्रबंधन दोनों अलग-अलग चीजें: राहुल द्रविड़

द्रविड़ ने कहा, ‘चोट का प्रबंधन और कार्यभार प्रबंधन दो अलग चीजें हैं। हम जितना क्रिकेट खेल रहे हैं उसे देखते हुए इन दोनों में संतुलन बनाना होगा कि निकट भविष्य में हमारे लिए प्राथमिकता क्या है। साथ ही सुनिश्चित करना होगा कि हमारे बड़े खिलाड़ी बड़े टूर्नामेंट के लिए उपलब्ध रहें।’

IPL 2023 के दौरान BCCI की मेडिकल टीम रहेगी फ्रेंचाइजीस के संपर्क में

राहुल द्रविड़ ने कहा कि एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय विश्व कप की योजनाओं में शामिल खिलाड़ी आईपीएल (IPL 2023) में खेलेंगे, क्योंकि इससे उन्हें अपने टी20 कौशल का आकलन करने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा, ‘आईपीएल के मामले में एनसीए और हमारी मेडिकल टीम लगातार फ्रेंचाइजी के संपर्क में रहेगी। अगर कोई मसला या चोट होती है तो हम उसके साथ जुड़ेंगे।’

राहुल द्रविड़ ने कहा, ‘अगर कोई खिलाड़ी चोटिल होता है या कोई अन्य चिंता होती है तो बेशक मुझे लगता है कि बीसीसीआई के पास उन्हें (टूर्नामेंट से) हटाने का अधिकार है। लेकिन अगर वे फिट हैं तो हम उन्हें आईपीएल के लिए रिलीज रखेंगे, क्योंकि यह महत्वपूर्ण टूर्नामेंट है। यह बीसीसीआई के लिए बहुत बड़ा टूर्नामेंट है, 2024 टी20 विश्व कप की हमारी तैयारियों को देखते हुए भी।’

\\\"स्वर्णिम
+91 120 4319808|9470846577

स्वर्णिम भारत न्यूज़ हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.

मनोज शर्मा

मनोज शर्मा (जन्म 1968) स्वर्णिम भारत के संस्थापक-प्रकाशक , प्रधान संपादक और मेन्टम सॉफ्टवेयर प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Laptops | Up to 40% off

अगली खबर

सनातन धर्म पर विवाद : टूटे आईने में सही शक्ल नहीं दिखती

Hindu Dharma and Sanatan Dharma: सच में आज की तारीख में स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda) से उद्भट विद्वान सनातन (Sanatan) को जानने वाला भारत ही नहीं, शायद विश्व में कोई दूसरा नहीं है। हमारा सनात

आपके पसंद का न्यूज

Subscribe US Now