गोवा कैसे पहुंचाए गए 45 करोड़, चरणप्रीत-विनोद चौहान का केजरीवाल से क्या कनेक्शन? ईडी की चार्जशीट में बड़े खुलासे

4 1 24
Read Time5 Minute, 17 Second

दिल्ली शराब घोटाले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) की चार्जशीट को लेकर बड़ी जानकारी सामने आई है. आबकारी नीति में आम आदमी पार्टी से लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की भूमिका तक के बारे में ईडी ने अपनी चार्जशीट में खुलासा किया है. इसके अलावा, ईडी ने हवाला के जरिए पैसे ट्रांसफर होने में चरणप्रीत को आरोपी बताया है. जबकि केजरीवाल और अपराध की आय को हैंडल करने वाले विनोद चौहान के बीच हुए डायरेक्ट मैसेज को सबूत के तौर पर कोर्ट में पेश किया है. आजतक ने ईडी चार्जशीट डिटेल्स हासिल की है. इसमें बैंक नोट, सीरियल नंबर और व्हाट्सऐप चैट का सिलसिलेवार जिक्र किया गया है.

ईडी की चार्जशीट में साफतौर पर कहा गया है कि शराब घोटाले में आम आदमी पार्टी भी शामिल है. चार्जशीट में AAP को आरोपी नंबर 38 बताया गया है. इसी संबंध में पार्टी के कर्ताधर्ता को 12 जुलाई को तलब किया गया है. ईडी के आरोपपत्र के मुताबिक, शराब नीति में कुल 100 करोड़ की रिश्वत ली गई है. इसमें से गोवा विधानसभा चुनाव के लिए AAP को 45 करोड़ रुपए प्रत्यक्ष तौर पर दिए गए हैं. यानी अपराध की आय से प्राप्त रकम में AAP 45 करोड़ की लाभार्थी रही है. ये पैसे हवाला के जरिए गोवा ट्रांसफर किए गए और फिर चुनाव प्रचार में इस्तेमाल किए गए. इस तरह से केजरीवाल के नेतृत्व वाली AAP ने अपराध की आय के 45 करोड़ रुपये उपयोग किए और उसे छुपाने की गतिविधियों में शामिल रहे हैं.

Advertisement

चार्जशीट में ईडी ने प्रोसीड ऑफ क्राइम का भी जिक्र किया है, जिसमें बताया कि आरोपी विनोद चौहान के मोबाइल से हवाला नोट नंबर के काफी स्क्रीन शॉट बरामद हुए हैं, जो इनकम टैक्स ने भी पहले बरामद किए थे. ये स्क्रीन शॉट दर्शाते हैं कि कैसे विनोद चौहान प्रोसीड ऑफ क्राइम यानी अपराध से अर्जित आयको दिल्ली से गोवा हवाला के जरिये ट्रांसफर कर रहा था. हवाला से गोवा पहुंचे पैसे को वहां मौजूद चरणप्रीत सिंह मैनेज कर रहा था. हवाला के जरिये गोवा भेजे गए पैसे को लेकर विनोद चौहान और अभिषेकबोइनपल्ली के बीच जो बातचीत हुई उसके सबूत भी ईडी के पास मौजूद हैं.

ईडी का कहना है कि ये मनी ट्रेलसीधे तौर पर साबित करता है कि कैसे साउथ ग्रुप से बतौर रिश्वत अपराध से अर्जित पैसा आम आदमी पार्टी ने गोवा इलेक्शन में इस्तेमाल किया था. ईडी का कहना है कि हवाला मनी ट्रांसफर से जुड़े विनोद चौहान और अभिषेक के बीच व्हाट्सएप चैट भी मौजूद है. ईडी नेहवाला टोकन मनी का स्क्रीनशॉट भी मुहैया कराया है.

45 करोड़ प्राप्त करने में चरणप्रीत की भूमिका

ईडी का कहना है कि गोवा चुनाव में हवाला के जरिए 45 करोड़ रुपये प्राप्त करने में चरणप्रीत सिंह की अहम भूमिका रही है. चरणप्रीत के बैंक खाते का विवरण खंगाला गया है. उसे AAP से सीधे 1 लाख रुपए से ज्यादा प्राप्त हुए थे. चरणप्रीत सिंह चैरियट प्रोडक्शंस मीडिया का कर्मचारी था और 2020 से फ्रीलांस के तौर पर AAP के गोवा चुनावी अभियान (मार्च 2022 तक) का हिस्सा बना था.

Advertisement

केजरीवाल ने गुमराह करने की कोशिश की

चार्जशीट में कहा गया है कि अरविंद केजरीवाल और सी अरविंद (मनीष सिसोदिया के तत्कालीन सचिव) के बीच विरोधाभासी बयान से यह साबित होता है कि कैसे अरविंद केजरीवाल ने जांच को गुमराह करने की कोशिश की है. एजेंसी ने यह भी कहा कि इस मामले में बड़ी संख्या में सबूत भी नष्ट किए गए हैं. यह बड़ी साजिश का संकेत देते हैं.

हवाला कारोबारियों के संपर्क में थे विनोद

आजतक ने चार्जशीट की पड़ताल की तो देखा कि गोवा चुनाव के लिए 45 करोड़ रुपये भेजने के लिए कैसे हवाला के जरिए ट्रांसफर किए गए. आजतक द्वारा एक्सेस की गई व्हाट्सऐप चैट से पता चला है कि कैसे अरविंद केजरीवाल के करीबी विनोद चौहान सीधे हवाला कारोबारियों से बातचीत कर रहे थे. केजरीवाल और आरोपी विनोद चौहान के बीच डायरेक्ट मैसेज के सबूत मिले हैं. ईडी की जांच में विनोद चौहान पर गोवा चुनाव के लिए हवाला के जरिए 25 करोड़ रुपये ट्रांसफर करने का भी आरोप लगा है. विनोद को इसी साल मई में जांच एजेंसी ने गिरफ्तार किया है.

दिल्ली शराब घोटाला

केजरीवाल के करीबी थे विनोद चौहान

व्हाट्सऐप चैट से ये भी साफ है कि विनोद चौहान के अरविंद केजरीवाल के साथ अच्छे रिश्ते थे.चैट से पता चला है कि कैसे विनोद चौहान डीजेबी की पोस्टिंग, सीएम के साथ मीटिंग फिक्सिंग और रेगुलर दोस्ताना मैसेज कर रहे थे. चैट में विनोद चौहान को हवाला कारोबारियों से सीधे बातचीत करते पाया गया है. ईडी ने कोर्ट में यह भी दावा किया कि विनोद चौहान को पता था कि ये पैसा दिल्ली शराब घोटाले से अपराध की आय है. उन्होंने गोवा चुनावों के लिए हवाला के जरिए ये पैसा पहुंचाया था.

Advertisement

विनोद चौहान ने हवाला के जरिए पैसे भेजे

ईडी की चार्जशीट के अनुसार, विनोद चौहान के फोन से कुछ ऐसी तस्वीरें मिली हैं, जो दावों को और पुख्ता करती हैं. फोटोज के अनुसार बैंक नोट के सीरियल नंबर, आईटी डेटा में जब्त किए गए नोट के सीरियल नंबर से मेल खाते हैं. ये सबूत दिल्ली से गोवा तक रिश्वत ट्रांसफर करने में चौहान की भूमिका को साबित करते हैं. एक अन्य आरोपी अशोक कौशिक ने भी अपने बयानों में पुष्टि की कि उसने अभिषेक बोइनपल्ली (साउथ ग्रुप का सदस्य) के निर्देश पर विनोद चौहान को दो बैग दिए थे.

चार्जशीट को कोर्ट ने लिया संज्ञान

फिलहाल, ईडी की चार्जशीट को कोर्ट ने संज्ञान लिया है. गुरुवार को सुनवाई करेगी. ये सातवीं पूरक चार्जशीट है. इसमें ईडी ने केजरीवाल और आम आदमी पार्टी को आरोप बनाया है. चार्जशीट में कुल 38 आरोपी हैं. इसमें 37वें नंबर पर अरविंद केजरीवाल हैं. इसके ठीक बाद 38वें नंबर पर आम आदमी पार्टी का नाम बतौर आरोपी दर्ज है. चार्जशीट के मुताबिक केजरीवाल इस पूरे मामले के किंगपिन यानी धुरी हैं और साजिशकर्ता हैं. गोवा चुनाव में रिश्वत से मिले पैसे का इस्तेमाल हुआ और केजरीवाल को इसकी पूरी जानकारी थी. क्योंकि वो इसमें शामिल थे. चार्जशीट में कहा गया है कि के कविता के पीए ने विनोद चौहान के जरिए 25.5 करोड़ रुपए गोवा चुनाव के लिए हवाला के जरिए आम आदमी पार्टी को पहुंचाए थे.

Advertisement

तिहाड़ जेल में बंद हैं अरविंद केजरीवाल

दिल्ली शराब घोटाले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जांच एजेंसी ईडी ने 21 मार्च 2024 को गिरफ्तार किया था. केजरीवाल इस समय तिहाड़ जेल में बंद हैं. ईडी शराब घोटाले में मनी लॉन्ड्रिंग के एंगल से जांच कर रही है. केजरीवाल पर सीबीआई ने भी शिकंजा कसा है. तीन महीने पहले यानी मई में ईडी ने दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट में करीब 200 पेजों का आरोपपत्र दाखिल किया था. ईडी ने अब तक इस मामले में आठ आरोपपत्र दाखिल किए हैं. मामले में अरविंद केजरीवाल, राज्यसभा सांसद संजय सिंह, बीआरएस नेता के कविता और पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया समेत कुल 18 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. संजय सिंह को सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर रिहा कर दिया गया है.

\\\"स्वर्णिम
+91 120 4319808|9470846577

स्वर्णिम भारत न्यूज़ हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.

मनोज शर्मा

मनोज शर्मा (जन्म 1968) स्वर्णिम भारत के संस्थापक-प्रकाशक , प्रधान संपादक और मेन्टम सॉफ्टवेयर प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Laptops | Up to 40% off

अगली खबर

गोली से छिदे कान, खून से लथपथ चेहरा और मुट्ठी भींचे ट्रंप की ये तस्वीर क्या US चुनाव का रुख बदल देगी?

आपके पसंद का न्यूज

Subscribe US Now