डर है कि कहीं सच्चाई सामने ना आ जाए-ताजमहल पर कोर्ट की टिप्पणी पर एक्टर ने कसा तंज तो लोग लेने लगे मजे

ताजमहल के बंद 22 कमरों को खुलवाने की याचिका को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया है। कोर्ट ने कहा कि ये तय करना हमारा काम नहीं है कि ताजमहल किसने बनवाया, ऐसे तो कल जजों से चेंबर में जाने की मांग हो

4 1 16
Read Time5 Minute, 17 Second

ताजमहल के बंद 22 कमरों को खुलवाने की याचिका को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया है। कोर्ट ने कहा कि ये तय करना हमारा काम नहीं है कि ताजमहल किसने बनवाया, ऐसे तो कल जजों से चेंबर में जाने की मांग होने लगेगी। कोर्ट ने कहा कि याचिका के जरिए जो मांग की जा रही है वो न्यायिक समीक्षा के दायरे में नहीं है। अब बॉलीवुड एक्टर कमाल आर. खान ने इस पर तंज कसा है।

कमाल आर खान ने ट्विटर पर लिखा कि’ इलाहाबाद हाईकोर्ट ने ताजमहल में कमरे खोलने की मांग कर रहे लोगों को चुप रहने की सलाह दी है। न्यायाधीश साहब ने उनसे इस तरह की जनहित याचिका दायर करने से पहले शिक्षित होने के लिए कहा। कोर्ट ने कहा- हर गंवार, लुक्खा को कोर्ट से सवाल करने की इजाजत नहीं है।’ इस पर लोग अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

लोगों की प्रतिक्रियाएं: तुषार आनंद नाम के यूजर ने लिखा कि ‘तुम लोग परेशान हो कि अगर कहीं खुल गया तो सच्चाई सामने आ जाएगी।’ एक अन्य यूजर ने लिखा कि ‘उन कमरों के अंदर ऐसा क्या है, जिसे हमेशा गुप्त रखा जाना चाहिए और जनता से छिपाया जाना चाहिए।’ Theoldman नाम की यूजर आईडी से KRK को जवाब देते हुए लिखा गया कि ‘मतलब, बिना पढ़ा लिखा या कम पढ़ा लिखा, इंसान अदालतों से इंसाफ की उम्मीद ना करें। कोर्ट सिर्फ, पढ़े लिखे लोगो के लिए है।’

कुंदन सिंह नाम के यूजर ने KRK को जवाब देते हुए लिखा कि ‘कोर्ट के फैसले पर कुछ गंवार यह भी कहते हैं कि ‘गर्दन कटवा लेंगे पर वीडियोग्राफी नहीं होने देंगे’ तो इस पर क्या कहेंगे?’ ललित नाम के यूजर ने लिखा कि ‘ज्ञानवापी और ताज महल के बंद 22 कमरों का सच सामने आना चाहिए, मगर PM Cares का नहीं। गजब है।’

बता दें कि बीजेपी, अयोध्या के मीडिया प्रभारी रजनीश सिंह ने एक याचिका दाखिल कर दावा किया था कि ताजमहल के बारे में झूठा इतिहास पढ़ाया जा रहा है. इसीलिए वह सच्चाई का पता लगाने के लिए ताजमहल के बंद 22 कमरों में जाकर शोध करना चाहते हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कोर्ट ने याचिकाकर्ता से कहा कि पहले किसी संस्थान से इस बारे में एमए पीएचडी कीजिए। तब हमारे पास आइए। अगर कोई संस्थान इसके लिए आपको दाखिला न दे तो हमारे पास आइए।

\\\"स्वर्णिम
+91 120 4319808|9470846577

स्वर्णिम भारत न्यूज़ हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.

मनोज शर्मा

मनोज शर्मा (जन्म 1968) स्वर्णिम भारत के संस्थापक-प्रकाशक , प्रधान संपादक और मेन्टम सॉफ्टवेयर प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Laptops | Up to 40% off

अगली खबर

ड्रोन उड़ाते PM के बगल में हाथ बांधे खड़े नजर आए ज्योतिरादित्य सिंधिया, लोग बोले – एयर इंडिया बिकने के बाद उड्डयन मंत्री ड्रोन का झुनझुना बजाते हुए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 27 मई को भारत ड्रोन महोत्सव का उद्घाटन किया। उनके इस कार्यक्रम के दौरान नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) भी वहां नजर

आपके पसंद का न्यूज

Subscribe US Now