Riyan Parag IPL 2024- रियान पराग को मिलेगा टी20 वर्ल्ड कप में मौका? सूर्यकुमार यादव से हुई तुलना, जान‍िए क्यों है दावा मजबूत

4 1 21
Read Time5 Minute, 17 Second

'...ये लड़का दो साल के अंदर टीम इंडिया के लिए खेलेगा, ये मेरी भव‍िष्यवाणी है. मुझे उम्मीद है, ऐसा जरूर होगा.' टीम इंड‍िया के स्व‍िंग मास्टर रहे इरफान पठान ने रियान पराग की आईपीएल में 84 रनों की पारी के बाद ऐसा कहा. रियान को लेकर कल (1 अप्रैल) मुंबई के ख‍िलाफ उनकी पारी के दौरान हिंदी कमेंट्री के दौरान यह भी कहा गया कि ये ख‍िलाड़ी बीच के ओवर्स में जितनी ताकत से खेलता है, वैसा बहुत ही कम ख‍िलाड़ी खेलते हैं. इसकी वजह है डोमेस्ट‍िक क्रिकेट में पसीना बहाना. र‍ियान ने डोमेस्ट‍िक क्रिकेट में अपनी गजब की धमक द‍िखाई है.

यानी रियान पराग के भव‍िष्य को लेकर तमाम क्रिकेट दिग्गज भी यह कहने से नहीं चूक रहे हैं कि इस ख‍िलाड़ी में गजब का दम है, ऐसे में वो आने वाले समय में टीम इंड‍िया के लिए मैच फिन‍िशर की भूम‍िका शानदार तरीके से न‍िभा सकते हैं. वहीं राजस्थान रॉयल्स के बॉल‍िंग कोच शेन बॉन्ड को उनकी बल्लेबाजी देखकर सूर्यकुमार यादव याद आ गए.

राजस्थान रॉयल्स के लिए इस आईपीएल सीजन में रियान पराग ने अब तक तीन मैच खेले हैं और तीनों ही मैचों में वह चले हैं. लखनऊ सुपर जायंट्स के ख‍िलाफ पहले मैच में उन्होंने 43 रन बनाए, दूसरे मैच में उन्होंने नाबाद 84 रन बनाए. उनके ये रन महज45 गेंदों पर आए, इसमें 7 चौके 6 छक्के शामिल रहे.

Advertisement

मुंबई इंड‍ियंस के ख‍िलाफ रियान ने 39 गेंदों में 54 रनों की नाबाद पारी खेली. भव‍िष्य में कोई शख्स स्कोरकार्ड पर जाकर जब इस पारी को देखेगा तो टी20 के ल‍िहाज से यह लोगों को स्लो लग सकती है. पर रियान ने इस पारी के दौरान जसप्रीत बुमराह की गोली जैसी गेंदों का सामना किया और फ‍िर मौका पड़ने पर गेराल्ड कोएत्जे (इस आईपीएल की सबसे तेज गेंद फेंकने वाले गेंदबाज) की गेंद पर चौके भी जड़े.

रियान ने जो विजयी चौका कोएत्जी की 16वें ओवर की जिस तीसरी गेंद पर जड़ा, उसकी स्पीड 157.41 किलोमीटर/ प्रत‍िघंटा दर्ज की गई. रियान ने इस सीजन से पहले तक आईपीएल में कुछ खास नहीं कर पाए थे. लेकिन इस बार वो काफी बदले-बदले से लग रहे हैं.

वैसे यह बात कम लोगों को पता होगी कि रियान परागके पिता पराग दास भी क्रिकेटर रहे हैं. परागऔर महेंद्र सिंहधोनी रेलवे के टूर्नामेंट में खड़गपुर और गुवाहटी में साथ खेलते थे. जबकि रणजी में धोनी और पराग दास बिहार और असम की तरफ से खेलते थे.जब पराग दास के बेटे रियान ने आईपीएल में चेन्नई के खिलाफ डेब्यू किया तो संयोग की बात ये थी कि धोनी उस वक्त विकेट के पीछे खड़े थे.

riyan parag
रियान पराग, फोटो क्रेडिट: (PTI)


क्यों है रियान का दावा मजबूत?

रियान पराग इस आईपीएल में बिल्कुल अलग नजर आ रहे हैं, खासकर उनका धैर्य. वह बल्लेबाजी करते हुए फ‍िलहाल अब तक कहीं भी जल्दबाजी में नहीं लगे हैं. खास बात यह रही कि तीन ही मैचों में उन्होंने मेरिट के हिसाब से शॉट खेले हैं. उनके लिए आईपीएल की कमेंट्री के दौरान कई क्रिकेट दिग्गज कह चुके हैं कि यह सीजन रियान के लिए टर्न‍िग प्वाइंट साबित होगा. इरफान पठान उनकी तारीफ कर चुके हैं.

वहीं, राजस्थान रॉयल्स के बॉल‍िंग कोच ने रियान पराग के खेलने के स्टाइल की तुलना सूर्यकुमार यादव से कर डाली. शेन बॉन्ड ने कहा- वह (पराग) मुझे कुछ हद तक सूर्या (सूर्यकुमार यादव) की याद दिलातेहैं, वह उनकी तरह दिखतेहैं, उनमें अत्यधिक प्रतिभा है. वह एक क्रिकेटर के रूप में मेच्चोरहो गए हैं, भले ही वह केवल 22 वर्ष के हैं.

Advertisement

खुद सूर्या भी पराग की तारीफ कर चुके हैं. ऐसे में पराग का यह फॉर्म जारी रहा तो इस बात में कोई आश्चचर्य नहीं होगा कि वो टी20 वर्ल्ड कप 2024 के ल‍िए टीम में चुने जा सकते हैं.

इस आईपीएल से पहले ऐसा था रियान का रिकॉर्ड

रियान पराग ने इस सीजन से पहले तक 54 आईपीएल मैचों में महज 16.22 के एवरेज से 600 रन बनाए थे. इस दौरान उन्होंने सिर्फ दो मौकों पर अर्धशतकीय पारियांखेली थीं. लगातारखराब प्रदर्शन के बावजूद राजस्थान रॉयल्स ने रियान पर भरोसा कायम रखा.रियान भारत की 2018 U19 विश्व कप विजेता टीम के सदस्य रह चुके हैं. रियान को आईपीएल 2019 से पहले खिलाड़ी की नीलामी के तीसरे और अंतिम दौर में राजस्थान रॉयल्स ने 20 लाख रुपये में खरीदा था.

रियान असम राज्य के पूर्व क्रिकेटर पराग दास के बेटे और राष्ट्रीय रिकॉर्डधारी स्व‍िमर मां तैराक मिठू बरुआ के बेटे हैं. दाएं हाथ के रियान ने 2019 में अपना आईपीएल डेब्यू किया और अब उनके नाम सबसे कम उम्र में आईपीएल अर्धशतक बनाने का रिकॉर्ड दर्ज हुआ था. आईपीएल 2020 और यहां तक ​​कि 2021 में भी ज्यादा रन नहीं बनाए, पर राजस्थान रॉयल्स ने उन पर व‍िश्वास रखा मेगा ऑक्शन में 3,80,00,000 रुपये की भारी कीमत में अपनी टीम में शामिल किया, जो दिखता है.

Advertisement

'असम के लिए खेलने पर 3 की जगह 5 शतक मारने पड़ते हैं'

रियान पराग ने रणजी के प‍िछले सीजन (2023-24) में असम के लिए रणजी ट्रॉफी में कुल 4 मैचों खेलकर 75.6 के एवरेज और 113.85 के स्ट्राइक रेट से 378 रन बनाए. इस दौरान रियान ने दो शतक और एक अर्धशतक लगाया. पराग ने छत्तीसगढ़ के खिलाफ मैच में 56 गेंदों पर शतक जड़ा था, जो रणजी ट्रॉफी के इतिहास का दूसरा सबसे तेज शतक था.

रियान ने तब अपने प्रदर्शन के बाद कहा था कि असम से खेलने पर 3 की जगह 5 शतक जड़ने पड़ते हैं. रियान ने जनवरी 2024 में एक इंटरव्यू में कहा था, 'जब आप असम जैसे राज्य से आते हैं, तो आपको हमेशा किसी बड़े राज्य के लिए खेलने वाले किसी खिलाड़ी से दोगुनी मेहनत करनी होती है. यह एक सच्चाई है, इसमें कोई शिकायत की बात नहीं है. अगर कोई तीन शतक बनाता है तो आपको पांच शतक लगाने होते हैं.' रियान पराग देवधर ट्रॉफी में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी थे. साथ ही वह उस टूर्नामेंट में तीसरे सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज भी रहे.

Advertisement

रियान काबेस्ट परफॉर्मेंस सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी (SMAT) 2023 में रहा. रियानने 10 मैचों में 85 की औसत और 182.79 के स्ट्राइक-रेट से 510 रन बनाए थे. रियान ने बिहार (61), सर्विसेस (76), सिक्किम (53*), चंडीगढ़ (76), हिमाचल (72), केरल (57*) और बंगाल (50*) के खिलाफ अर्धशतकीय पारियां खेलीं. रियान टी20 क्रिकेट में लगातार सात अर्धशतक लगाने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज हैं. रियानने उस टूर्नामेंट में गेंद से भी बेहतर खेल दिखाते हुए 7.29 की इकोनॉमी रेट से 11 विकेट लिए. रियान ने अपनी कप्तानी में असम को नॉकआउट स्टेज में पहुंचाया था.

रियान पराग का करियर
फर्स्ट क्लास: 29 मैच, 1798 रन, 50 विकेट
लिस्ट-ए: 49 मैच, 1720 रन, 50 विकेट
टी20: 101 मैच, 2224 रन, 41 विकेट
आईपीएल: 57 मैच, 781 रन, 4 विकेट

\\\"स्वर्णिम
+91 120 4319808|9470846577

स्वर्णिम भारत न्यूज़ हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.

मनोज शर्मा

मनोज शर्मा (जन्म 1968) स्वर्णिम भारत के संस्थापक-प्रकाशक , प्रधान संपादक और मेन्टम सॉफ्टवेयर प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Laptops | Up to 40% off

अगली खबर

Gujarat: गुजरात में नाराज क्षत्रियों को मनाने में जुटी सरकार, पुरुषोत्तम रुपाला के बयान से कैसे घिरी BJP?

राज्य ब्यूरो, अहमदाबाद। गुजरात के राजकोट में क्षत्रिय अस्मिता महासम्मेलन के बाद अब राजपूत समाज की संस्थाओं की संकलन समिति व करणी सेना में विवाद उत्पन्न हो गया है। करणी सेना महिला मोर्चा की अध्यक्ष पदमिनी बा ने कहा कि संकलन समिति भाजपा के साथ मिलक

आपके पसंद का न्यूज

Subscribe US Now