पटना- रुपसपुर में 12 घंटे में हत्या की दूसरी घटना- कैब सवार जमीन कारोबारी पर बदमाशों ने चलाई ताबड़तोड़ गोलियां

संवाद सहयोगी, दानापुर: रुपसपुर क्षेत्र में महज 12 घंटे के भीतर अपराधियों ने गोली मारकर हत्या करने की दूसरी बड़ी घटना को अंजाम दिया है। खगौल नजर रोड पर हरदासपुर के चुलाईचक मोड़ के नजदीक बाइक सवार अपराधियों ने ओला कैब पर अंधाधुंध फायरिंग की

4 1 285
Read Time5 Minute, 17 Second

संवाद सहयोगी, दानापुर: रुपसपुर क्षेत्र में महज 12 घंटे के भीतर अपराधियों ने गोली मारकर हत्या करने की दूसरी बड़ी घटना को अंजाम दिया है। खगौल नजर रोड पर हरदासपुर के चुलाईचक मोड़ के नजदीक बाइक सवार अपराधियों ने ओला कैब पर अंधाधुंध फायरिंग की, जिसमें कार सवार युवक की मौत हो गई।

रियल स्टेट कारोबारी था नवनीत

वारदात को अंजाम देने के बाद अपराधी फरार हो गए। मृतक की पहचान 33 वर्षीय देव कुमार नवनीत के रूप में हुई है। वह वर्तमान में हरदासपुर के सरस्वती हाइट्स अपार्टमेंट में रहता था। वह रीयल इस्टेट का कारोबार करता था। हैरानी है कि उसने कमर में लोडेड पिस्टल खोंस रखी थी लेकिन उसे चलाने का समय नहीं मिल पाया। वहीं, कैब चालक धीरज सिंह इस हमले में बाल-बाल बच गया।

छानबीन कर रही पुलिस

सिटी एसपी पश्चिमी राजेश कुमार के मुताबिक, प्रथमदृष्टया देव के पास से मिली पिस्टल देसी प्रतीत होती है। उसकी जेब से अलग-अलग नामों से बने दो आधार कार्ड और एक पैन कार्ड मिला। इसके अलावा घटनास्थल पर हमलावरों की पिस्टल और मैग्जीन गिर गई थी। उसे भी पुलिस ने जब्त कर लिया है। सभी बिंदुओं पर छानबीन जारी है।

आईएएस कॉलोनी से बुक की थी कैब

आल्टो चालक धीरज सिंह के मुताबिक, देव ने आईएएस कालोनी के अलंकार मारुति शोरूम गली से हरदासपुर जाने के लिए ओला कैब बुक किया था। रुपसपुर-खगौल नहर मार्ग पर मुस्तफापुर पहुंचने से 350 मीटर दूर स्पीड ब्रेकर पर धीरज ने कार धीमी की। तभी पीछे से कार पर फायरिंग हुई।

धीरज को पहले लगा कि किसी ने पटाखा छोड़ा अथवा टायर ब्लास्ट हुआ लेकिन एकाएक गोलियां तड़तड़ाने लगीं। इस बीच पिछली सीट पर दाहिने तरफ बैठे देव चीख उठा तो धीरज ने कार रोक दी। पीछे मुड़ कर देखा तो वह सीट पर लहूलुहान पड़ा था।

धीरज पर भी अपराधियों ने तानी थी पिस्टल

धीरज के मुताबिक, गाड़ी रोकते ही बाइक सवार दो अपराधी उसके नजदीक आ गए। वे गाड़ी के अंदर झांकने लगे। इतने में धीरज ने गेट खोला तो उस पर भी पिस्टल तान दी। हालांकि, वह किसी तरह भाग कर थोड़ी दूर स्थित झोपड़ी में घुस गया। हत्यारों के फरार होने पर वह कार के पास आया। पुलिस धीरज से पूछताछ कर रही है। उससे आरोपियों के हुलिए, बाइक के मॉडल आदि की जानकारी के लिए सवाल-जवाब किए जा रहे हैं।

देव के मोबाइल पर आ रही थी पत्नी की कॉल

बताया जाता है कि पुलिस घटनास्थल पर छानबीन कर ही रही थी कि देव के मोबाइल की घंटी बजने लगी। पुलिस ने कॉल रिसीव की तो सामने से युवती की आवाज सुनाई दी। पूछने पर उसने अपना नाम रोशनी बताया और कहा कि देव उसके पति हैं। वह अभी बाहर है।

पुलिस ने जब घटना की जानकारी दी तो वह फोन पर ही रोने लगी। देर शाम देव के माता-पिता दानापुर अनुमंडल अस्पताल पहुंचे, जहां पोस्टमार्टम के लिए उसका शव रखा था। स्वजनों ने शव की पहचान की। पुलिस स्वजनाें का बयान दर्ज कर रही है। अभी घटना का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। कारोबार से जुड़े मामलों भी खंगाले जा रहे हैं।

Edited By: Mohit Tripathi

\\\"स्वर्णिम
+91 120 4319808|9470846577

स्वर्णिम भारत न्यूज़ हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.

मनोज शर्मा

मनोज शर्मा (जन्म 1968) स्वर्णिम भारत के संस्थापक-प्रकाशक , प्रधान संपादक और मेन्टम सॉफ्टवेयर प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Laptops | Up to 40% off

अगली खबर

Jharkhand News: चुनाव से पहले विश्व हिन्दू परिषद में बड़ा फेरबदल, आलोक कुमार अध्यक्ष और बजरंग बागड़ा बने विहिप के केंद्रीय महामंत्री

जागरण संवाददाता, रांची। विश्व हिंदू परिषद की केंद्रीय प्रबंध समिति एवं प्रन्यासी मंडल की बैठक में सोमवार को विहिप के नए अध्यक्ष का चुनाव किया गया। अयोध्या के कारसेवकपुरम में चल रही तीन दिवसीय बैठक के दूसरे दिन अंतिम सत्र में चुनाव के बाद नए अध्यक

आपके पसंद का न्यूज

Subscribe US Now