दिल्ली के एक स्कूल ने काटे 14 बच्चों के नाम? पेरेंट्स लगा रहे 100 गुना फीस वृद्धि‍ का आरोप, विरोध-प्रदर्शन जारी

4 1 12
Read Time5 Minute, 17 Second

राजधानी दिल्ली के द्वारका में स्थित दिल्ली पब्लिक स्कूल (DPS Dwarka) के बाहर कई अभिभावक विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. पेरेंट्स आरोप लगा रहे हैं कि डीपीएस स्कूल ने फीस जमा नहीं करने पर 14 बच्चों का नाम काटकर उन्हें टीसी (Transfer Certificate) दे दिया है. इसको लेकर पेरेंट्स डीपीएस पब्लिक स्कूल से काफी नाराज हैं.

पिछले काफी समय से कई स्कूलों की फीस बढ़ाएजाने को लेकर पेरेंट्स द्वारा प्रोटेस्ट करने की खबरें आती रही हैं. द्वारका के डीपीएस स्कूल में भी कुछ वक्त पहले फीस बढ़ा दी गई थी, जिसकापेरेंट्स विरोध कर रहे थे. इस मामले की शिकायत दिल्ली पेरेंट्स एसोसिएशन ने शिक्षा विभाग के अलग-अलग अधिकारियों के पास की, जिसके बाद शिक्षा विभाग ने यह आश्वासन दिया था कि इस मामले की जांच की जाएगी. बावजूद इसके समस्या का कोई समाधान नहीं हुआ और डीपीएस द्वारका में पढ़ने वाले अलग-अलग क्लास के 14 बच्चों का नाम बढ़ी हुई फीस जमा नहीं करने की वजह से काट दिया गया.

फीस को 100 गुना बढ़ाया गया

दिल्ली पेरेंट्स एसोसिएशन कीअध्यक्ष अपराजिता गौतम से मिली जानकारी के अनुसार, जिन बच्चों के नाम काटे गए हैं, वे अलग-अलग कक्षा में पढ़ते हैं. उनके नाम सोमवार को स्कूल ने काट दिएहैं. इस बात की जानकारी मिलते ही उनके पेरेंट्स मंगलवार सुबह स्कूल के बाहर प्रोटेस्ट करने पहुंच गए. पेरेंट्स हाथों में तख्तियां लेकर स्कूल के बाहर खड़े होकर प्रोटेस्ट कर रहे हैं और अपने बच्चों के दोबारा एडमिशन की मांग कर रहे हैं. अपराजिता ने आगे कहा कि, अब तक इस स्कूल में सालाना फीस 93 हजार होती थी उसे बढ़ाकर स्कूल ने 1,70,000 रुपये कर दिया है. यह 100 फीसदी बढ़ोतरी पूरी तरह से अवैध है और शिक्षा विभाग इसमें पूरी तरह से मिला हुआ है. यही वजह है कि स्कूल मैनेजमेंट को किसी का कोई डर नहीं है. अपराजिता गौतम के अनुसार, कई पेरेंट्स को शो कॉज नोटिस भी भेजा गया है.

Advertisement

अभिभावकों के साथ बच्चे भी हो रहे परेशान

अपराजिता ने आगे कहा कि इसमामले को लेकर शिक्षा विभाग के डायरेक्टर से मुलाकात की जाएगी और अब पानी सिर से ऊपर चला गया है, जिसकी वजह से पेरेंट्स तो परेशान हैं ही, बच्चे भी मानसिक तौर पर प्रताड़ित हो रहे हैं. वहीं, उनका यह भी कहना है कि सरकार आज स्कूलों को बेहतर करने के साथ-साथ स्कूल की मनमानी रोकने की खूब दावे करती है, लेकिन जिस तरह से स्कूल फीस बढ़ाकर पेरेंट्स को परेशान किया जा रहा है,उस पर सरकार की तरफ से न कोई कार्रवाई हो रही हैऔर ना ही कोई प्रतिक्रिया सामने आई है.

रिपोर्ट: मनोरंजन कुमार

\\\"स्वर्णिम
+91 120 4319808|9470846577

स्वर्णिम भारत न्यूज़ हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.

मनोज शर्मा

मनोज शर्मा (जन्म 1968) स्वर्णिम भारत के संस्थापक-प्रकाशक , प्रधान संपादक और मेन्टम सॉफ्टवेयर प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Laptops | Up to 40% off

अगली खबर

PM Modi in Mandi: हाथ में कैमरा, सिर पर हिमाचल की पारंपरिक टोपी... चुनावी चकल्लस के बीच मंडी में दिखा पीएम का प्रकृति प्रेम

डिजिटल डेस्क, मंडी।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के दौरे पर थे। प्रधानमंत्री ने मंडी में भाजपा प्रत्याशी कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के समर्थन में जनसभा को संबोधित किया।

आपके पसंद का न्यूज

Subscribe US Now