Shashi Tharoor Trolled After Team Indian Win- भारतीय टीम की जीत के बाद क्यों ट्रोल हुए कांग्रेस सांसद शशि थरूर... बीजेपी नेभीसाधानिशाना

4 1 18
Read Time5 Minute, 17 Second

भारत ने जिम्बाब्वे को टी20 सीरीज के दूसरे मुकाबले में 100 रनों से हरा दिया. इस जीत के साथ ही शुभमन गिल की अगुवाई वालीभारतीय टीम ने पांच मैचों की सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली. दोनों टीमों के बीच तीसरा टी20 मुकाबला 10 जुलाई को इसी मैदान पर खेला जाना है.

हार के बाद थरूर ने बोर्डपर साधा था निशाना

दूसरे टी20 मैच में भारत की जीत के बाद कांग्रेस नेता शशि थरूर सुर्खियों में आ गए. थरूर अपने एक दिन पुराने ट्वीट को लेकर ट्रोल हो गए. उस ट्वीट में उन्होंने जिम्बाब्वे के खिलाफपहले टी20 मैच में टीम इंडिया की हार के बाद भारतीय क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड (BCCI)की आलोचना की थी. थरूर ने बीसीसीआई को 'अहंकारी' कहाऔर उस पर 'चीजों को हल्के में लेने' का आरोप लगाया था. साथ ही थरूर ने इस हार के बहाने भारतीय जनता पार्टी (BJP)पर भी कटाक्ष किया था.

तिरुवनंतपुरम के सांसद ने ट्वीट किया था, 'भारत की टी20 वर्ल्ड कप जीत के बाद मुंबई में हुए जश्न की गूंज अभी थमी भी नहीं है कि हरारे में जिम्बाब्वे के हाथों हमारी हार हो गई. बीसीसीआई ने चीजों को हल्के में लिया और यही उसकी सजा थी. चाहे 4 जून हो या 6 जुलाई, अहंकार में कमी आई है. जिम्बाब्वे अच्छा खेला.'

Advertisement

थरूर ने कहा था, 'अगर किसी टीम को INDIA कहा जाता है तो उसे इस लेबल के योग्य होना चाहिए. इसेभारत-ए टीम कहना बेस्ट रहता. अगर सूर्या, पंत, हार्दिक, कुलदीप, सिराज, बुमराह, अर्शदीप जैसे खिलाड़ी उपलब्ध नहीं थे, तो दौरे को स्थगित कर दिया जाना चाहिए था. मेरी निराशा इसलिए नहीं है कि हम हार गए, बल्कि इसलिए है कि हमने उतना भी आत्म-सम्मान नहीं दिखाया.'

हालांकि जब भारत को दूसरे टी20 में जीत मिली तो थरूर ने टीम इंडिया को जीत की बधाई दी. साथ ही थरूर ने ये भी कहा कि सुखद उद्देश्य के लिए ट्रोल होने पर उन्हें खुशी है. थरूर ने लिखा, 'युवा भारतीय टीम को बधाई, जिसने आज जिम्बाब्वे को 100 रनों से हरा दिया.खासकर अभिषेक शर्मा को, जिनका शतक टी20 में भारत की ओर से तीसरा सबसे तेज शतक रहा. खुशी है कि उन्होंने कल के खराब प्रदर्शन से इतनी जल्दी वापसी की. एक सुखद उद्देश्य के लिए ट्रोल किएजाने पर मुझे खुशी है.'

Advertisement

दूसरे टी20 मैच में भारत की जीत के बाद अब थरूर बीजेपी के निशाने पर आ गए हैं. बीजेपी प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने लिखा, 'क्या शशि थरूर और कांग्रेस टीम इंडिया से माफी मांगेंगे. कांग्रेस, शशि थरूर और उनके इकोसिस्टम ने पीएम मोदी और बीजेपी से अपनी नफरत में भारतीय क्रिकेट टीम को अपनी नफरत और नकारात्मकता का शिकार बनाया.

पूनावाला ने आगे कहा, 'एक दिन बाद हमारे खिलाड़ियों ने जिम्बाब्वे के खिलाफ बड़ी जीत दर्ज करके पलटवार किया. सवाल यह है कि कांग्रेस भारत की हार का जश्न क्यों मना रही थी. वे भारत की सेना, संस्था और यहां तक कि खेलों को सिर्फ इसलिए कमतर आंकते रहते हैं क्योंकि वे पीएम मोदी से नफरत करते हैं. कांग्रेस भारत विरोधी है.' BJP की केरल इकाई ने भी शशि थरूर पर निशाना साधा. केरल भाजपा ने लिखा कि कांग्रेस के पोस्टर बॉय शशि थरूर ने फिर से वही किया है. सिर्फ एक हार और उन्होंने राष्ट्र को बदनाम करने कामौका नहीं गंवाया.

Advertisement

सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं थरूर

68साल के शशि थरूर उन कांग्रेसी नेताओं में शामिल हैं, जो सोशल मीडियापर काफी एक्टिव रहते हैं. हालांकि, कई मौकों पर उनके बयानों ने कांग्रेस पार्टी के लिए मुश्किलें खड़ी की हैं. 2006 में थरूर ने संयुक्त राष्ट्र (UN) के महासचिव का चुनाव लड़ा था, लेकिन जीत नहीं सके. इसके बाद उन्होंने भारतीय राजनीति में कदम रखते हुए कांग्रेस की सदस्यता ली.

शशि थरूर ने साल 2009 में तिरुवनंतपुरम से अपना पहला लोकसभा चुनाव लड़ा और जीत हासिल की. इसके बाद 2014, 2019और 2024के लोकसभा चुनावों में भी थरूर इस सीट से विजयी रहे. 2009 में मनमोहन सिंह के दूसरे कार्यकाल में शशि थरूर को केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री बनाया गया. इसके बाद वह 2012-14 तक मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री भी रहे.

\\\"स्वर्णिम
+91 120 4319808|9470846577

स्वर्णिम भारत न्यूज़ हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.

मनोज शर्मा

मनोज शर्मा (जन्म 1968) स्वर्णिम भारत के संस्थापक-प्रकाशक , प्रधान संपादक और मेन्टम सॉफ्टवेयर प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Laptops | Up to 40% off

अगली खबर

Punjab News: शंभू बॉर्डर पर धरना दे रहे किसान करने लगे दिल्ली कूच की तैयारी, बांध रहे अपना-अपना सामान

स्वर्णिम भारत न्यूज़ संवाददाता, पटियाला। हरियाणा की सीमा से सटे शंभू बॉर्डर पर पांच महीने से धरने पर बैठे किसान अब दिल्ली कूच की तैयारी करने लगे हैं। रविवार को शंभू में किसान नेता सरवन सह पंधेर ने किसान जत्थेबंदियों के साथ बैठक कर उन्हें दिल्ली क

आपके पसंद का न्यूज

Subscribe US Now