JEE के बाद ऑफिसर पद पर चाहिए सरकारी नौकरी? यहां जानें क्या है प्रोसेस

4 1 89
Read Time5 Minute, 17 Second

GovernmentJobs after JEE Exam: देश के नामी आईआईटी संस्थानों में एडमिशन लेने के लिए छात्र जेईई एग्जाम क्लियर करते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं जेईई की परीक्षा आपके लिए सरकारी नौकरी के दरवाजे भी खोलती है. अगर आपके इस एग्जाम में अच्छे अंक आएहैं तो आप अफसर बनने के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं. आइए जानते हैं जेईई परीक्षा सरकारी नौकरी कैसे दिलाती है.

जेईई परीक्षा पास करने के बाद अगर आप आईआईटी में एडमिशन नहीं लेना चाहते हैं तो भारतीय सेना में तकनीकी प्रेवश योजना (TES) के लिए अप्लाई कर सकते हैं. अगर इसमें आपका सेलेक्शन हो गया तो ऑफिसर पद पर नौकरी मिलना तय है. इस परीक्षा के लिए इंडियन नेवी अपनी वेबसाइट पर भर्ती का नोटिफिकेशन जारी करती है. इस परीक्षा को पास करके ऑफिसर बनने वाले कैंडिडेट्स को सैलरी भी अच्छी मिलती है.

शैक्षिक योग्यता

इस एग्जाम को देने के लिए कैंडिडेट को 70 प्रतिशत के साथ 12वीं पास और जेईई मेन्स का एग्जाम देना जरूरी है. इन दोनों की मार्कशीट के आधार पर कैंडिडेट का सेलेक्शन किया जाता है. हालांकि, कैंडिडेट की 12वीं फिजिक्स, कैमिस्ट्री और मैथ्स विषयमें होनी चाहिए. बता दें कि इसमें आवेदन करने वाले कैंडिडेट्स को कोई भी शुल्क नहीं देना होगा.

Advertisement

आयु सीमा

अगर आप 20 साल के हो गए हैं को इस भर्ती अभियान में हिस्सा नहीं ले सकते हैं क्योंकि परीक्षा के लिए अधिकतम आयु 19.5 निर्धारित की गई है. 16.5 उम्र से 19.5 उम्र तक के कैंडिडेट इस एग्जाम के लिए अप्लाई कर सकते हैं. रैंक के आधार पर कैंडिडेट शॉर्टलिस्ट किए जाते हैं फिर उनका इंटरव्यू होता है. इंटरव्यू के बाद जो कैंडिडेट सेलेक्ट होते हैं उन्हें इंडियन नेवी द्वारा मेल भेजा जाता है.

इंटरव्यू क्लियर करने के बाद नेवी की तरफ से फ्री पढ़ाई

चयनित उम्मीदवारों को एप्लाइड इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग या इलेक्ट्रॉनिक्स एंड में चार साल के बी.टेक कोर्स के लिए कैडेट के रूप में शामिल किया जाएगा. कोर्स पूरा होने पर जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) द्वारा बी.टेक डिग्री प्रदान की जाएगी. इंटरव्यू पास करने के बाद पुस्तकों और पठन सामग्री सहित प्रशिक्षण की पूरी लागत भारतीय नौसेना द्वारा वहन की जाएगी. कैडेट्सको उचित पोशाक और भोजन भी उपलब्ध कराया जाएगा.

\\\"स्वर्णिम
+91 120 4319808|9470846577

स्वर्णिम भारत न्यूज़ हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.

मनोज शर्मा

मनोज शर्मा (जन्म 1968) स्वर्णिम भारत के संस्थापक-प्रकाशक , प्रधान संपादक और मेन्टम सॉफ्टवेयर प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Laptops | Up to 40% off

अगली खबर

उत्तराखंड हाईकोर्ट से हल्द्वानी दंगे के आरोपी को बड़ी राहत, 2.44 करोड़ के रिकवरी नोटिस पर लगाई रोक

<

आपके पसंद का न्यूज

Subscribe US Now