‘आयूब खान की लाश को कब्र से निकाल कर फांसी दो’, पाकिस्तान की संसद में हंगामा

Pakistan Politics: पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने कि संविधान को निरस्त करने के लिए पूर्व सैन्य तानाशाह अयूब खान (Ayub Khan) के शव को कब्र से निकाला जाए और फांसी पर लटका दिया जाए. नेशनल असेंबली में हो रही तीखी बहस के दौरान उन्होंने मांग क

4 1 23
Read Time5 Minute, 17 Second

Pakistan Politics: पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने कि संविधान को निरस्त करने के लिए पूर्व सैन्य तानाशाह अयूब खान (Ayub Khan) के शव को कब्र से निकाला जाए और फांसी पर लटका दिया जाए. नेशनल असेंबली में हो रही तीखी बहस के दौरान उन्होंने मांग की.

समस्या तब शुरू हुई जब सोमवार को अयूब खान के पोते और विपक्षी नेता उमर अयूब खान ने सैन्य प्रवक्ता मेजर-जनरल अहमद शरीफ चौधरी के पिछले सप्ताह के प्रेस कॉन्फ्रेंस पर कड़ी आपत्ति जताई और इसे सेना द्वारा राजनीति में हस्तक्षेप करना करार दिया.

उमर अयूब खान ने कही ये बात उमर अयूब खान ने कहा, ‘संविधान के अनुसार सुरक्षा एजेंसियां राजनीति में शामिल नहीं हो सकती हैं.’ उन्होंने संविधान के विभिन्न अनुच्छेदों का हवाला देते हुए कहा कि सैन्य अधिकारियों की शपथ उन्हें राजनीति में हस्तक्षेप करने की इजाजत नहीं देती. उन्होंने कहा ‘सुरक्षा संस्थानों को संविधान के अनुसार, राजनीति में शामिल नहीं होना चाहिए. यह संवाददाता सम्मेलन नहीं होना चाहिए था.’

उमर अयूब खान अनुच्छेद छह का हवाला देते हुआ कहा कि संविधान को निरस्त करना दंडनीय देशद्रोह है जिसके लिए मौत की सजा तय है. उन्होंने आग्रह किया कि सभी संस्थानों को संवैधानिक सीमाओं के भीतर रहना चाहिए.

रक्षा मंत्री ने किया पलटवार रक्षा मंत्री आसिफ ने कहा कि अयूब खान संविधान का उल्लंघन करने वाले पहले व्यक्ति थे और उन्हें अनुच्छेद छह का सामना करने वाला भी पहला व्यक्ति होना चाहिए.

रक्षा मंत्री आसिफ ने कहा, ‘देश में पहला मार्शल लॉ लागू करने वाले झूठे फील्ड मार्शल अयूब खान के शरीर को भी (अनुच्छेद 6 के अनुसार) खोदकर निकाला जाना चाहिए और फांसी दी जानी चाहिए.’

आसिफ की टिप्पणी पर भड़का विपक्ष आसिफ की टिप्पणी पर पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) सहित विभिन्न विपक्षी दलों के सांसदों ने विरोध जताया और नेशनल असेंबली में हंगामा होने लगा. स्पीकर अयाज सादिक ने शांति बनाए रखने का अनुरोध किया.

अपनी मांग दोहराते हुए आसिफ ने कहा ‘जो सभी समस्याओं, संविधान के उल्लंघन एवं अराजकता की जड़ है, उसके शव को खोद कर निकाला जाए और फांसी पर लटकाया जाए.’

(इनपुट - एजेंसी)

\\\"स्वर्णिम
+91 120 4319808|9470846577

स्वर्णिम भारत न्यूज़ हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.

मनोज शर्मा

मनोज शर्मा (जन्म 1968) स्वर्णिम भारत के संस्थापक-प्रकाशक , प्रधान संपादक और मेन्टम सॉफ्टवेयर प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Laptops | Up to 40% off

अगली खबर

Punjab News: पंजाब में अवैध खनन पर नहीं लग रही लगाम, हाईकोर्ट ने नोटिस जारी कर मांगा राज्‍य सरकार से जवाब

राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़। पंजाब की 2023 की खनन नीति में प्रावधान होने तथा खनन निदेशक के पत्र के बावजूद खनन माफिया पर लगाम न लगने को लेकर दाखिल जनहित याचिका पर पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने पंजाब सरकार सहित अन्य को नोटिस जारी करते हुए जवाब दाखिल करने का

आपके पसंद का न्यूज

Subscribe US Now