T20 World Cup 2024- ... तो हार जाता साउथ अफ्रीका, ICC के इस विवादास्पद नियम ने बांग्लादेशकीलगादीलंका

4 1 21
Read Time5 Minute, 17 Second

आईसीसी मेन्स टी20 वर्ल्ड कप 2024 के एक अहम मुकाबले में साउथ अफ्रीका ने बांग्लादेश को चार रनों से हरा दिया. मंगलवार (11 जून) कोन्यूयॉर्क के नसाऊ काउंटी इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए इस मैच में अफ्रीकी टीम ने छह विकेट पर 113 रन बनाए थे. जवाब में बांग्लादेश की टीम निर्धारित 20 ओवरों में सात विकेट पर 109 रन ही बना सकी. ग्रुप-डी में मौजूदसाउथ अफ्रीका की यह लगातार तीसरी जीत रही और वह सुपर-8 में पहुंचने के काफी करीबहै. दूसरी ओर बांग्लादेश की यह मौजूदा टूर्नामेंट में यहदो मैचों में पहली हार रही.

बांग्लादेश पर भारी पड़ गया ये विवादास्पद नियम

इस मुकाबले के दौरान आईसीसी का डेड-बॉल नियम सुर्खियों में रहा. इस नियम का खामियाजा बांग्लादेशी टीम को भुगतना पड़ा और उसके खाते में चार रन नहीं जोड़े गए. संयोग की बात यह है कि इस मैच में हार या जीत का अंतर भी सिर्फ चार रन का रहा. यह पूरा विवाद बांग्लादेश की पारी के 17वें ओवर में हुआ.

उस ओवर में ओटनील बार्टमैन की दूसरी गेंद पर बांग्लादेशी बल्लेबाज महमूदुल्लाह रियाद को अंपायर सैम नोगाज्स्की ने एलबीडब्ल्यू आउट दे दिया. हालांकि इसी बीच गेंद पैड से टकराने के बाद बाउंड्री लाइन से बाहर चली गई थी. फिरमहमूदुल्लाह ने डीआरएस लिया. रिप्ले में दिखा कि गेंद स्टम्प मिस कर रही थी, ऐसे में थर्ड अंपायर ने बल्लेबाज को नॉटआउट करार दिया. महमूदुल्लाह नॉटआउट रहे फिर भी बांग्लादेश के खाते में लेग-बाय के चार रन गए क्योंकि मैदानी अंपायर ने उन्हें आउट दे दिया था. अंपायर के आउट देते ही वो गेंद डेड हो चुकी थी.

Advertisement

क्या है डेडबॉल नियम?

आईसीसी के नियमानुसार, अगर मैदानी अंपायर बल्लेबाज को एलबीडब्ल्यू आउट देता है तो कोई अतिरिक्त रन (लेग-बाय या बाय) नहीं दिए जाएंगे. भले ही थर्ड अंपायर उस निर्णय को क्यों ना पलट दे. हालाकि, अगर मैदानी अंपायर का नॉटआउट का निर्णय रिव्यू के बाद भी बरकरार रहता है, तो बल्लेबाजी करने वाली टीम के खाते में रन दिए जा सकते हैं.

उदाहरण के लिए यदि महमूदुल्लाह रियाद को मैदानी अंपायर ने इस अवसर पर नॉटआउट दिया रहता. इसके बाद फिर साउथ अफ्रीका ने रिव्यू लिया होता और तीसरे अंपायर भीबल्लेबाज को नॉटआउट देतातो बांग्लादेश को चार रन मिलते.

बांग्लादेश की प्लेइंग इलेवन: तंजीद हसन, लिटन दास (विकेट कीपर), नजमुल हुसैन शंतो (कप्तान), तौहीद ह्रदोय, शाकिब अल हसन, जाकेर अली, महमूदुल्लाह रियाद, रिशद हुसैन, तस्कीन अहमद, तंजीम हसन शाकिब, मुस्ताफिजुर रहमान.

साउथअफ्रीका की प्लेइंग इलेवन: रीजा हेंड्रिक्स, क्विंटन डिकॉक (विकेट कीपर), एडेन मार्करम (कप्तान), ट्रिस्टन स्टब्स, हेनरिक क्लासेन, डेविड मिलर, मार्को जानसेन, केशव महाराज, कगिसो रबाडा, एनरिक नॉर्किया, ओटनील बार्टमैन.

\\\"स्वर्णिम
+91 120 4319808|9470846577

स्वर्णिम भारत न्यूज़ हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.

मनोज शर्मा

मनोज शर्मा (जन्म 1968) स्वर्णिम भारत के संस्थापक-प्रकाशक , प्रधान संपादक और मेन्टम सॉफ्टवेयर प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Laptops | Up to 40% off

अगली खबर

Anant Radhika Wedding: साल की सबसे भव्य अनंत-राधिका की शादी में मेहमानों को कैसे मिली एंट्री? गवाह बने देश और दुनिया के दिग्गज

पीटीआई, मुंबई। एशिया के सबसे अमीर उद्योगपति मुकेश अंबानी के छोटे बेटे अनंत अंबानी और फार्मा क्षेत्र के दिग्गज विरेन मर्चेंट की बेटी राधिका की शादी में आयोजन की भव्यता और मेहमानों की दिव्यता ने पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। लेकिन इन आयोजन को इतन

आपके पसंद का न्यूज

Subscribe US Now